ईडी के शिकंजे में अर्पिता मुखर्जी

Share

एक दिन के रिमांड पर कैश क्वीन कोलकाता:- पश्चिम बंगाल के शिक्षक भर्ती घोटाले के जांच की आंच अब राज्य के कई मंत्रियों तक पहुंच गई है। लेकिन कल तक सबके लिए गुमनाम रहीं मंत्री पार्थ चटर्जी की करीबी अर्पिता मुखर्जी को अब ईडी के एक दिन के रिमांड पर भेज दिया गया है। कोलकाता हाईकोर्ट ने अर्पिता की जमानत याचिका भी खारिज कर दि है।

प्रवर्तन निदेशालय की तरफ से अर्पिता के फ्लैट पर डाली गई रेड में लगभग 21 करोड का कैश बरामद हुआ है। नोटों के इस खेल से ममता सरकार की नींद उड़ी हुई है। विपक्ष खासतौर पर बीजेपी इस वक्त उन पर पूरी तरह से हमलावर है।

क्या है यह पूरा मामला

पश्चिम बंगाल के एसएससी घोटाले की जांच कर रही ईडी ने शनिवार को टीएमसी नेताओं पार्थ चटर्जी और परेश अधिकारी के यहां छापा मारा।इसमें मंत्री पार्थ चटर्जी की करीबी अर्पिता मुखर्जी के यहां पड़ी रेड में लगभग 21 करोड़ कैश तथा लगभग 20 मोबाइल भी बरामद हुए। ममता की गई बड़े मंत्रियों पर गिरफ्तारी की तलवार लटक रही है और इसी के साथ सियासत भी तेज हो गई है।

 27 Views

1 thought on “ईडी के शिकंजे में अर्पिता मुखर्जी”

Leave a Comment