केंद्र ने दिए निर्देश : 10 फीसदी से अधिक कोरोना संक्रमण वाले जिलों में प्रतिबंध लगाना जरूरी

Share

बढ़ रहे कोरोना के मामले

देश के कुछ राज्यों में कोरोना के मामले बढ़ते हुए नज़र आ रहे हैं । जिससे तीसरी लहर की असंका बढ़ गयी है । इसलिए केंद्र ने 10 फीसदी से अधिक कोरोना संक्रमण वाले जिलों में पाबंदियां बढ़ाने के निर्देश दिए हैं । केंद्र का कहा कि 10 राज्यों में कोरोना संक्रमण दर में तेजी देखी जा रही है । यहां नियमों का पालन करवाने की सख्त जरूरत है ।

Screenshot 20210731 210149 Dailyhunt
thewebnews.in

केंद्र ने कहा की 46 जिलों में 10 फीसदी से अधिक संक्रमण है । जबकि 53 राज्यों में पाँच से 10 फीसदी के बीच संक्रमण दर है । इसलिए राज्यों में कोरोना जाँच में तेजी लाने की जरूरत है । स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि किसी भी तरह की लापरवाही इन जिलों के लिए भारी पड़ सकती है ।

केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव रमेश भूषण की उपस्थिति में महाराष्ट्र, कर्नाटक, केरल तमिलनाडु , असम , मिजोरम , मेघालय , आंध्रप्रदेश और मणिपुर कोरोना की स्थिति की समीक्षा के लिए शनिवार को एक उच्चस्तरीय बैठक की गई ।

उन्होंने कहा कि इस बैठक में स्वास्थ्य अधिकारियों द्वारा कोरोना के निगरानी, नियंत्रण और प्रबंधन के लिए किए गए सार्वजनिक स्वास्थ्य उपायों की समीक्षा की गई । ये राज्य या तो दैनिक कोरोना मामलों में वृद्धि या संक्रमण दर में वृद्धि की रिपोर्ट कर रहें हैं ।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने अपने बयान में कहा कि पिछले कुछ हफ्तों में 10 फीसदी से अधिक की संक्रमण दर की रिपोर्ट करने वाले सभी जिलों में लोगों की आवाजाही को रोकने / कम करने, भीड़ को और लोगों के आपस में मिलने से रोकने के लिए सख्त प्रतिबंधों पर विचार करने की आवश्यकता है।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि प्रभावित राज्यों में 80 फीसदी से अधिक सक्रिय मामले होम आइसोलेशन में बताए गए हैं और इन मामलों की कड़ाई से निगरानी करने की आवश्यकता है ताकि वे अन्य लोगों से न मिलें और न संक्रमण फैलाएं।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने राज्यों से यह भी कहा कि वे जिलेवार कोरोना के आंकड़ों के लिए अपने स्वयं के सिरो सर्वे करें, क्योंकि राष्ट्रीय स्तर पर इस तरह का सर्वेक्षण थोड़ा कठिन है।

2 thoughts on “केंद्र ने दिए निर्देश : 10 फीसदी से अधिक कोरोना संक्रमण वाले जिलों में प्रतिबंध लगाना जरूरी”

Leave a Comment