मंकीपॉक्स के कारण डब्ल्यूएचओ  ने लगाई  ग्लोबल हेल्थ इमरजेंसी

Share

भारत में भी बढ़ रहे हैं मंकीपॉक्स की मरीज

कोरोनावायरस के बाद मंकीपॉक्स से लोग एक बार फिर परेशान हो रहे हैं । ऐसे में मंकीपॉक्स के खतरे को देखते हुए विश्व स्वास्थ्य संगठन  ने वैश्विक स्वास्थ्य आपातकाल की घोषणा कर दी है ।

डब्ल्यूएचओ के महानिदेशक ट्रेडोस अदनोम ने इसकी आधिकारिक पुष्टि की । विश्व स्वास्थ्य संगठन का कहना है कि दुनिया के 70 से अधिक देशों में  इस भयंकर बीमारी ने अपने पैर पसार लिए हैं जिससे आपातकाल की स्थिति उत्पन्न हो रही है ।

n406970290b0168c16d8109d11f52565ba7ce86f53f50e3ec60fc7f8eef46a1185a29c7585
tv 9 bharatvarsh

ध्यान देने वाली बात यह है कि विश्व में अभी तक मंकीपॉक्स की कुल 15 हजार मरीज मिले हैं जबकि संयुक्त राज्य अमेरिका कनाडा ब्रिटेन और देशों ने लाखों टीके खरीद लिए हैं जबकि अफ्रीका को एक भी टीका नहीं मिला है । बता दे कि अफ्रीका में मंकीपॉक्स से 70 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी हैं ।

भारत में भी मंकीपॉक्स के मामले आने शुरू हो गए

भारत में धीरे-धीरे मंकीपॉक्स का खतरा बढ़ रहा है । भारत में अब तक इस बीमारी से कुल 3 मामले सामने आए हैं।  तीनों मामले केरल से है । जुलाई की शुरुआत में  यूएई से लौटे 35 वर्षीय युवक में मंकीपॉक्स के  की पुष्टि हुई । दरअसल मलप्पुरम का रहने वाला यह युवक 13 जुलाई शाम अपने गृह राज्य लौट आया था । तभी उसे  तेज बुखार है ।

इससे पहले केरल का दूसरा मामला कुन्नूर जिले से आया जहां दुबई से कुन्नूर लौटे युवक में मंकीपॉक्स की पुष्टि हुई । मंकीपॉक्स का पहला मरीज भी केरल से ही मिला था 12 जुलाई यूएई से कोल्लम आए व्यक्ति में मंकीपॉक्स के लक्षण मिले थे ।

 79 Views