कर्नाटक: सावरकर और टीपू सुल्तान के पोस्टर पर दो गुटों में विवाद, धारा 144 लागु

Share

कर्नाटक में जारी है पोस्टर पर बवाल

कर्नाटक के शिवमोगा में स्थानीय आमिर अहमद सर्कल पर हिंदुत्व के प्रतीक विनायक दामोदर सावरकर और मैसूर के शासक टीपू सुल्तान का पोस्टर लगाने को लेकर दो समूहों के बीच विवाद हो गया। जिसके बाद पुलिस ने असामान्य हालत को देखते हुए धारा 144 लगा दी है।

रविवार को स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर एक गुट ने आमिर अहमद सर्कल पर लगे बिजली के खम्भे पर वीर सावरकर का पोस्टर लगाने की कोसिस की जिसपर दूसरे समूह ने आपत्ति जताई खबर है की दूसरे समूह वहा टीपू सुल्तान का पोस्टर लगाना चाहते थे।

शिवमोगा पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार टीपू सुल्तान के अनुयायियों के एक समूह ने शहर के अमीर अहमद सर्कल में टीपू सुल्तान के बैनर लगाने के लिए वीडी सावरकर के बैनर हटाने की कोशिश की।

जिससे क्षेत्र में तनाव का माहौल बनाने लगा, साथ ही दोनों पक्षो के लोग वहा इकट्ठा होने लगे। जिसके बाद पुलिस ने भीड़ को कंट्रोल करने के लिए लाठी चार्ज किया। हलाकि की पुलिस ने हालत को सभालते हुए पोस्टर वाली जगह पर तिरंगा लगा दिया है। प्रसाशन द्वारा क्षेत्र में अतिरिक्त पुलिस बल तैनात जकर दी है और पूरे शहर में दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 144 लागु कर दिया गया।

इसे भी पढ़े – होवित्जर के गर्जन से गुंजा लाल किला : स्वतंत्रता दिवस

कर्नाटक में पोस्टर जंग पर राजनीती

बता दे की इससे पहले कांग्रेस कार्यकर्ताओं द्वारा हडसन सर्किल में शनिवार रात को विभिन्न स्वतंत्रता सेनानियों की तस्वीरों वाला एक पोस्टर लगाया गया था। जिसमे टीपू सुल्तान का पोस्टर भी शामिल था। इन पोस्टर्स को कुछ अज्ञात लोगों ने नुकसान भी पहुंचाया था।

इसके बाद राज्य कांग्रेस प्रमुख डी के शिवकुमार ने घटनास्थल का दौरा किया। जिसमे उन्होंने कहा कि कोई राज्य में अशांति फ़ैलाने की कोसिस कर रहा है। वे कांग्रेस के स्वतंत्रता मार्च को पचा नहीं पा रहे हैं। साथ ही डीके शिवकुमार ने सीएम बोम्मई को निशाने पर लिया और कहा कि उन्होंने स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों की लिस्ट से पंडित नेहरू का नाम गायब कर दिया।

 79 Views