“तारक मेहता का उल्टा चश्मा” के नट्टू काका का निधन

Share

नही रहे “तारक मेहता का उल्टा चश्मा” के नट्टू काका

तारक मेहता का उल्टा चश्मा शो में नजर आने वाले नट्टू काका उर्फ घनश्याम नायक का 77 वर्ष की आयु में निधन। घनश्याम नायक काफी लंबे समय से बीमार चल रहे थे। इस बात की जानकारी तारक मेहता का उल्टा चश्मा के निर्माता असित मोदी ने साझा करते हुए कहा नट्टू काका एक लंबे समय से कैंसर की बीमारी से जूझ रहे थे। कुछ महीने पहले उनके दो ऑपरेशन भी हुए थे।

वह शुरुआत से लेकरबाभी तक तारक मेहता के टीम के साथ थे। घनश्याम नायक उर्फ नट्टू काका के मृत्यु की खबर शो के निर्माता असित मोदी ने ट्विटर पर दी, उन्होंने खबर साझा करते हुए लिखा ‘हमारे प्यारे नट्टू काकाहमारे साथ नही रहे। परम कृपालु परमेश्वर उन्हें अपने चरणों में स्थान दे और परम शांति दे उनके परिवार को ये दुख सहन करने की शक्ति दे। नट्टू काका हम आपको नही भूल सकते।’

प्रशंसकों को खूब पसंद आये नट्टू काका

लोकप्रिय टीवी शो तारक मेहता का उल्टा चश्मा में नट्टू काका का किरदार निभाने वाले घनश्याम नायक ने हमेशा अपनी कॉमेडी और अलग अंदाज से लोगो का खूब मनोरंजन किया। शो में उन्होंने जेठालाल के असिस्टेंट नट्टू काका की भूमिका बखूबी निभाई। नट्टू काका के अग्रेजी बोलने का अंदाज प्रसाशको को खूब पसंद आया, वे अपने फनी एक्सप्रेशन से सभी को हंसा हंसा के लोट पोट कर देते थे। घनश्याम नायक 13 सालो से इस शो के साथ जुड़े हुए थे और देखते ही देखते नट्टू काका के किरदार के रूप में बच्चे से लेकर बड़ों तक के दिल में उतर गए।

एक्टिंग के दीवाने थे घनस्याम नायक

घनश्याम नायक एक्टिंग को लेकर इतने दीवाने थे की वह आखिरी सांस तक काम करना चाहते थे। उन्होंने एक इंटरव्यू में कहा- मैं आखिरी सांस तक काम करना चाहता हु। जब तक जिंदा हु तब तक इस इंडस्ट्री में काम करना चाहता हु, एक्टिंग करना चाहता हु। मेरी आखिरी इच्छा है की मैं मेकअप पहन कर ही मरू।’

बता दे की घनश्याम नायक न सिर्फ टीवी बल्कि फिल्मों में भी अपने अभिनय से सभी को एंटरटेन किया है। साल 1960 अशोक कुमार की फिल्म मासूम में चाइल्ड एक्टर के रूप में शुरुआत की उसके बाद वे बेटा, आंखे, तिरंगा, आंदोलन, ईस्क, चाइना गेट, समेत कई फिल्मों का हिस्सा भी रहे।

Leave a Comment